महाराष्ट्र में शिवसेना से नाता तोड़ा तो गठबंधन के बारे में सोचेंगे: पृथ्वीराज चव्हाण
2019 का आम चुनाव नजदीक आ रहा है ऐसे में सियासत गरमा रही है.


औरंगाबाद : 2019 का आम चुनाव नजदीक आ रहा है ऐसे में सियासत गरमा रही है. अनुमान लगाए जा रहे हैं कि आम चुनाव से पहले सियासी समीकरण में बदलाव देखने को मिलेगा. कुछ नए समीकरण बनने के आसार दिख रहे हैं और कुछ पुराने समीकरण टुटने के कयास लगए जा रहे हैं. महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चह्वाण के एक बयान ये तो कुछ ऐसे ही संकेत मिल रहे हैं

दरअसल कांग्रेस नेता पृथ्वीराज चव्हाण ने कहा कि शिवसेना अगर बीजेपी विरोधी दलों के साथ आना चाहती है तो पार्टी को पहले राजग से नाता तोड़ कर सत्ता से हटना होगा. महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री ने संकेत किया कि अगर उनकी पार्टी का केंद्रीय नेतृत्व मंजूरी देता है तो शिवसेना और कांग्रेस के साथ औपचारिक गठजोड़ हो सकता है.

चह्वाण ने संवाददाताओं को बताया, ''शिवसेना बीजेपी के साथ सत्ता में है और अगर यह अलग होकर बीजेपी विरोधी दलों के साथ आना चाहती है तो हम इस पर विचार करेंगे और (गठबंधन के लिए) एक प्रस्ताव दिल्ली भेजा जा सकता है.''

बता दें कि शिवसेना महाराष्ट्र में बीजेपी के साथ सरकार में है. लेकिन समय-समय पर पार्टी के नेताओं के साथ खुद शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे भी केंद्र सरकार पर हमला बोलने में पीछे नहीं रहते. हालांकि बीजेपी से अलग होकर चुनाव लड़ने पर अभी तक शिवसेना ने कोइ प्रतिक्रिया नहीं दी है.


अधिक देश की खबरें