दलितों के उत्पीड़न के खिलाफ यूपी कांग्रेस अध्यक्ष राजबब्बर का उपवास
Rajbabbar


लखनऊ, दलितों के मुद्दे को लेकर बसपा और सपा के बाद अब कांग्रेस भी सड़कों पर उतर रही है. 9 अप्रैल को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी दिल्ली के राजघाट पर उपवास करेंगे. वहीं, यूपी कांग्रेस के अध्यक्ष राजबब्बर लखनऊ में कांग्रेस मुख्यालय पर आयोजित एक उपवास कार्यक्रम में शामिल होंगे, जिसमें राजबब्बर की अगुवाई में प्रदेश तमाम उपवास रखेंगे.

प्रवक्ता अमर नाथ अग्रवाल ने कहा कि केंद्र सरकार सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने का प्रयास कर रही है. इसके खिलाफ देश के सभी जिला मुख्यालयों पर भी 9 अप्रैल को ही उपवास कार्यक्रम किए जाएंगे.

दरअसल, उपवास कार्यक्रम के सहारे कांग्रेस अपने दलित एजेंडे को दुरुस्त करने में जुटी है. यही वजह है कि दलित वोट बैंक की वापसी के लिए कांग्रेस की उम्मीदें बीजेपी और बसपा के बीच जारी खींचतान से जगी है. दलितों को पार्टी से जोड़ने के लिए पार्टी दलित सुरक्षा व संविधान बचाओ सम्मेलनों के बाद पार्टी उपवास कार्यक्रम आयोजित कर रही है. इसके अलावा पार्टी अब ब्लॉक स्तर पर संपर्क व संवाद बढ़ाने के लिए जनजागरण अभियान भी चलाएगी.

इससे पहले, पार्टी ने दो अप्रैल को हुए भारत बंद में दलित संगठनों को अपना समर्थन दिया था. अब कांग्रेस दलितों की गिरफ्तारी व उनके खिलाफ फर्जी मुकदमें दर्ज कराने का खुलकर विरोध शुरू किया है.

प्रवक्ता द्विजेन्द्र त्रिपाठी कहते हैं, “दलित उत्पीड़न के खिलाफ राहुल गांधी हमेशा मुखर रहे हैं. गुजरात में दलित उत्पीड़न हो या रोहित वेमुला कांड, सहारनपुर जिले का शब्बीरपुर प्रकरण हो या बीजेपी शासित राज्यों में दलितों पर बढ़े अत्याचार के खिलाफ केवल कांग्रेस ही लड़ती रही है. उन्होंने कहा कि केंद्र से बीजेपी की सरकार को उखाड़ फेंकने में कांग्रेस ही सक्षम है.”


अधिक राज्य की खबरें