UP में सपा के सहारे कांग्रेस 100 सीटों पर लड़ेगी चुनाव
कांग्रेस की तरफ से घोषित मुख्यमंत्री पद की उम्मीदवार शीला दीक्षित भी खुद अपनी उम्मीदवारी वापस लेने की बात कह रही हैं।


लखनऊ : उत्तर प्रदेश में विगत 27 वर्षों से वनवास झेल रही कांग्रेस पार्टी को 2017 के विधानसभा चुनाव में भी समाजवादी पार्टी का ही सहारा है। ''27 साल यूपी बेहाल'' का नारा देने वाली कांग्रेस पार्टी को मजबूरी में सपा के साथ गठबंधन करना पड़ रहा है। वहीं प्रदेश की 403 विधानसभा सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारने की बात करने वाली पार्टी कांग्रेस अब महज 100 सीटों पर ही अपना उम्मीदवार खड़ा कर पायेगी। गठबंधन का ताना बाना बुना जा चुका है। बस महज औपचारिक घोषणा होनी ही बाकी है। एक दो दिन के भीतर घोषणा हो जायेगी। 

सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस गठबंधन नहीं बल्कि महागठबंधन करने जा रही है। इस महागठबंधन में सपा,कांग्रेस, रालोद,महान दल,पीस पार्टी और अपना दल(कृष्णा पटले गुट) और बीएस फोर जैसे छोटे दल भी शामिल हैं। इनमें सेे लगभग 250 सीटों पर सपा, 100 से 105 पर कांग्रेस और शेष बची सीटों पर महागठबंधन में शामिल छोटे दल अपने प्रत्याशी उतारेंगे। महागठबंधन की घोषणा जल्द ही मुख्यमंत्री अखिलेश यादव, राहुल गांधी और जयंत चैधरी कर सकते हैं। 

वहीं कांग्रेस की तरफ से घोषित मुख्यमंत्री पद की उम्मीदवार शीला दीक्षित भी खुद अपनी उम्मीदवारी वापस लेने की बात कह रही हैं। उन्होंने मंगलवार को कहा कि जब गठबंधन का चेहरा अखिलेश यादव होंगे तो उनकी कोई जरूरत ही नहीं है। कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव व प्रदेश प्रभारी गुलाम नबी आजाद ने भी कहा है कि कांग्रेस व समाजवादी पार्टी विधानसभा चुनाव में साथ-साथ जनता के बीच जायेंगे। उन्होंने कहा कि गठबंधन पर अगले 24 घण्टे के अन्दर घोषणा कर दी जायेगी। 

उत्तर प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता आर.ए.प्रसाद ने  बताया कि महागठबंधन को लेकर जो भी बातें चल रही हैं वह हाईकमान तय कर रहा है। पार्टी का नेतृत्व जो भी तय करेगा जितनी भी सीटों पर कहेगा उसी के मुताबिक हम लोग प्रत्याशी उतारेंगे। कांग्रेस सेंट्रल स्क्र्रींनग कमेटी की बैठक आज कांग्रेस सेंट्रल स्क्र्रींनग कमेटी की बैठक मंगलवार को नई दिल्ली में आयोजित है। ऐसी संभावना है कि इसमें पहले चरण के चुनाव के लिए प्रत्याशियों के बारे में अंतिम निर्णय हो सकता है। 

राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलौत की अध्यक्षता में यह बैठक होगी। इसमें पार्टी की प्रदेश चुनाव समिति की तरफ से तैयार दावेदारों के पैनल पर चर्चा के बाद प्रत्याशियों का नाम तय किया जाएगा। इसमें कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राजबब्बर मौजूद रहेंगे। 


अधिक राज्य की खबरें

यूपी पेडिकान कांफ्रेंस : दूसरे दिन बच्चों की इन गंभीर बीमारीयों पर बाल रोग विशेषज्ञों ने बाल रोग डॉक्टर्स को बताएं इलाज के नए तरीके..

उत्तर प्रदेश पेडिकान के तत्वधान में आज से शुरू हुए 39 वां स्टेट कांफ्रेंस ऑफ इंडियन ... ...

बाइक रैली में बोले CM योगी, गरीबों का विकास ही बीजेपी का एक मात्र लक्ष्य..

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शनिवार को वाराणसी के संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय से कमल संदेश बाइक ... ...