काश BSP भी गठबंधन का हिस्सा होती : गुलाम नबी आजाद
भाजपाई एक तरफ रेडियो और टीवी चैनलों पर सर्व समाज का विकास करने की बात करते हैं और बंद कमरों में बैठकर मुस्लिम विरोधी नीतियां बनाते हैं।


गाजियाबाद : कांग्रेसी नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा है कि भाजपा के दांत खाने के और, दिखाने के और हैं। भाजपाई एक तरफ रेडियो और टीवी चैनलों पर सर्व समाज का विकास करने की बात करते हैं और बंद कमरों में बैठकर मुस्लिम विरोधी नीतियां बनाते हैं।

कांग्रेसी नेता ने कहा कि काश बसपा भी सपा-कांग्रेस गठबंधन का हिस्सा होती, तो तीनों दल मिलकर उत्तर प्रदेश से भाजपा का पूरी तरह से सफाया कर देते। आजाद शनिवार को मुस्लिम बहुल इलाके कैला भट्टा में एक चुनावी जनसभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने मुस्लिम समुदाय से वोटों का बंटवारा नहीं होने देने की अपील की और उनसे एकजुट होकर शहरी सीट से गठबंधन के प्रत्याशी केके शर्मा के पक्ष में वोट देने का अनुरोध किया। चुनावी सभा के दौरान गुलाम नबी ने भाजपा को जमकर कोसा जबकि बसपा के प्रति उनका रूख नरम दिखाई दिया।

उन्होंने दावा किया कि गठबंधन की सरकार बनने जा रही है। टिकट ना मिलने पर गठबंधन के नेताओं में मतभेद हो सकते हैं, लेकिन दोनों दल अपने प्रत्याशियों को जिताने में जुटे हैं। आजाद ने मुसलमानों से कहा कि वे बसपा को वोट देकर अपना वोट खराब नहीं करें। नोटबंदी को उन्होंने देश को बरबाद करने वाला फैसला बताया और कहा कि जनता इस चुनाव में भाजपा को हराकर देश की बरबादी का हिसाब भाजपा से जरूर लेगी। इस दौरान पूर्व केन्द्रीय मंत्री अखिलेश दास ने भी सभा को संबोधित किया। सभा में सपा और कांग्रेस के नेता मौजूद रहे।


अधिक राज्य की खबरें