टैग:Women genitals, Women Private parts, name women private parts, International Urogynecology Journal, महिलाओं के प्राइवेट पार्ट्स, प्राइवेट पार्ट्स न्यूज,
अधिकतर लोग महिलाओं के प्राइवेट पार्ट के इन अंगों के नाम नहीं जानते...!
demo pic


शरीर के बाहरी अंगों के बारे में तो हर कोई जानता है लेकिन भीतरी अंगों के बारे में शायद ही लोगों को पता हो. बात जब प्राइवेट पार्ट्स की होती है तो लोग इसके बारे में बात करने से कतराते हैं. हैरानी की बात तो ये है कि खुद महिलाएं अपने प्राइवेट पार्ट्स के नाम तक नहीं जानतीं. यही वजह है कि इन्हें लेकर लोगों में जागरूकता की कमी नजर आती है. 

लोगों को जागरूक करने के मकसद से ब्रिटेन में एक सर्वे किया गया जिसके नतीजे बेहद चौंकाने वाले थे. रिसर्चर्स ने सर्वे में एक चित्र के जरिए महिलाओं के प्राइवेट पार्ट्स के भीतरी नाम लोगों से पूछे. जिसके नतीजे चौंकाने वाले हैं. सर्वे में महिलाएं और पुरुष दोनों शामिल थे. इस स्टडी को इंटरनेशनल यूरोगायनेकॉलॉजी जर्नल में प्रकाशित किया गया. सर्वे का मकसद लोगों में मानव शरीर के बारे में जागरूकता कितनी महत्वपूर्ण है, इस पर प्रकाश डालना है. 
गर्मियों में लड़कियां अपने प्राइवेट पार्ट्स का ऐसे रखें ध्यान वरना कर  बैठेंगी नुकशान

स्टडी में पाया गया कि महिलाएं अपने प्राइवेट पार्ट के अंदरूनी अंगों के नाम नहीं जानतीं जिसके कारण उन्हें इनसे जुड़ी कोई समस्या होने पर चिकित्सकीय सलाह लेने में मुश्किलों का सामने करना पड़ता है. 

इंग्लैंड स्थित मैनचेस्टर के एक हॉस्पिटल में Outpatient appointments में हिस्सा लेने आए लोगों को एक क्वेश्चनेयर दिया गया, चित्र देखकर उन्हें महिलाओं के प्राइवेट पार्ट के अंदरूनी अंगों के नाम बताने थे. आधे से भी कम लोगों को सही जबाव पता थे. 
​महिलाओं के प्राइवेट पार्ट के लिए खतरनाक हैं ये चीजें

रिसर्चरों ने पाया कि आधे से अधिक ब्रिटिशर्स चित्र में Urethra (मूत्रमार्ग) को नहीं पहचान पाए. 37 प्रतिशत लोग Clitoris को नहीं पहचान पाए. ऐसे लोगों में महिलाएं भी शामिल थीं. सर्वे में शामिल लागों को वल्वा (Vulva) का एक डायग्राम दिया गया और उनसे इसके पार्ट्स के नाम लिखने को कहा गया.

पार्टिसिपेंट्स में जागरूकता की इतनी कमी नजर आई कि आधे से अधिक ने इस डायग्राम को खाली छोड़ दिया. रिसर्चरों ने कहा कि लोग Urethra और Clitoris में फर्क नहीं कर पाए. 

महिलाओं के प्राइवेट पार्ट से निकलने वाले सफ़ेद पानी के कारण और उपाय -  Rochak Post

वैज्ञानिकों ने निष्कर्ष निकाला कि लोगों में महिला जननांगों और शारीरिक रचना की समझ ना के बराबर है जो कि लोगों के स्वास्थ्य के लिए बेहद खराब है. The Sun में छपी एक रिपोर्ट में रिसर्चर्स ने कहा कि सर्वे में शामिल महिलाओं ने पुरुषों की तुलना में ज्यादा सही जवाब दिए. 

अधिक जरा हटके की खबरें