General Motors ने पुणे प्लांट से निकाले सभी 1086 कर्मचारी
कॉन्सेप्ट फोटो


जनरल मोटर्स इंडिया ने पुणे प्लांट से करीब एक हजार से ज्यादा कर्मचारियों को नौकरी से निकाल दिया है। बता दें, ये वो कर्मचारी हैं जिन्होंने कंपनी के वॉलिंयटरी सेपरेशन पैकेज लेने से इंकार कर दिया था इतना ही नहीं कंपनी के कानूनी लड़ाई भी शुरू कर दी थी।

बताया जा रहा है कि कंपनी के वर्कर्स ने इंडस्ट्रियल कोर्ट में अपील दायर की थी। 

तालेगांव साइट पर लगभग एक तिहाई कर्मचारियों ने 4 जुलाई की समय सीमा तक वॉलिंयटरी सेपरेशन पैकेज को स्वीकार कर लिया है. अमेरिकी कार निर्माता की स्थानीय इकाई ने 12 जुलाई को बाकी लोगों को नौकरी से निकाल दिया


 कर्मचारी यूनियन ने पुणे के की इंडस्ट्रियल कोर्ट में 15 जुलाई को एक केस दाखिल किया है. कर्मचारी यूनियन ने कोर्ट में इस छंटनी को चुनौती दी है, साथ ही फैक्ट्री को चीन की SUV बनाने वाली कंपनी Great Wall Motors या किसी दूसरी पार्टी को बेचने पर रोक लगाने की मांग की है.

(देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते है)

अधिक बिज़नेस की खबरें