अगर आप मछली खाते है, तो इस बीमारी से मिलेगा छुटकारा
concept photo


रिपोर्ट - वैभव तिवारी , लखनऊ


 दुनिया के अधिकतर लोग मांसाहार यानी non veg खाना खाते है, जिसकी वजह ज़्यादातर तो इसका ज़बरदस्त स्वाद होता है, और उसमें मौजूद ढेर सारा प्रोटीन होता है। मांसाहार खाना भी बहोत प्रकार का होता है, रेड मीट जिसे लाल मांस भी कहते है जैसे बकरा, बीफ या पोर्क यानी सुअर का मांस, फिर होता है वाइट मीट यानी जिस मुर्गी या मछली। हमारे देश मे ज़्यादातर नॉन वेज खाने वाले लोग मुर्गी मछली या बकरा ही खाते है , हालांकि बहोत ज़्यादा रेड मीट खाने से हमारे शरीर मे फैट बनता है , जिससे हार्ट प्रॉब्लम भी हो सकती है। लेकिन नॉन वेज खाने में ऐसा खाना भी होता है जो हमारे दिल के रोग को ठीक कर सकता है। बताते है कि अगर आप ज़्यादा नही, बस हफ्ते में 2 बार मछली खाना शुरू कर दें तो आप के दिल की बीमारी ठीक हो सकती है, और मछली ऐसी हो जिसमें ओमेगा 3 फैटी एसिड मौजूद हो,यानी कि वो मछली, जिसमे आयल यानी तेल की मात्रा ज्यादा हो, क्योंकि उसके नमियता से शरीर पर खासी फायदा होता है, अमेरिका में की गयी एक रिसर्च के मुताबिक ओमेगा 3 फैटी एसिड के कारण हमारे शरीर के कार्डियोवैस्कुलर से जुड़ी बीमारी को ठीक कर देता है, जैसे सोलमोंन या ट्यूना , सार्डिन या कॉर्ड फिश। एक श्रोध के अनुसार बताया जा रहा है, दिल की बीमारी वालों पर तो इसका फायदा होता है, लेकिन, जिनको कोई बीमारी नही है, उनपर कुछ खास फायदा इसका नही देखा गया है।



अधिक सेहत/एजुकेशन की खबरें