आसानी से करिये ये बिजनेस होगी लाखों की कमाई, डालें एक नजर...
कांसेप्ट फोटो


रोज बिजनेस करने का नये नये आइडिया सोचने वालों के लिए आज हम भी एक आइडिया लेकर आए हैं। इससे आपको थोड़ी मदद मिल सकती है। आप जरा गौर कीजिये कि आज के समय में टिश्यू पेपर की मांग हर जगह है, हर कोई इस्तेमाल करता है। फिर वो चाहे घर हो, रेस्टोरेंट हो, ऑफिस हो.. इसीलिए आप भी इसका बिजनेस करने के बारे में सोच सकते हैं। ये आपके लिए फायदेमंद भी रहेगा। 

इतना ही नहीं इस बिजनेस के लिए सरकार से भी मदद मिल सकती है। सरकार की मदद से आप पेपर नैपकिन की मैन्युफैक्चरिंग यूनिट (फैक्टरी) लगा सकते हैं। इस तरह साथ ही लाखों रुपये की आमदनी कर सकते हैं
आखिर करना क्या होगा?

अगर आप पेपर नैपकिन की मैन्युफैक्चरिंग यूनिट लगाना चाहते हैं तो आपको करीब 3.50 लाख रुपये का इंतजाम करना होगा।

इतने पैसे होने के बाद आप किसी भी बैंक के पास मुद्रा स्‍कीम के तहत लोन के लिए अप्‍लाई कर सकते हैं। 

3.50 लाख रुपये आपके पास होने के कारण बैंक आपको लगभग टर्म लोन के तौर पर लगभग 3 लाख 10 हजार रुपये और वर्किंग कैपिटल लोन 5.30 लाख रुपये तक मिल जाएगा। इस तरह से आपके प्रोजेक्ट की कुल लागत 11.90 लाख रुपये आएगी।

इन मशीनरी की जरूरत मैन्युफैक्चरिंग यूनिट के लिए 2 कलर फ्लैक्सोग्राफिक मशीन, 1 टैस्टिंग इक्विपमेंट, एज सीलिंग एंड कटिंग मशीन, हैंड टूल्स और रॉ टिश्यू पेपर की जरूरत होगी। 

होगी अच्‍छी-खासी कमाई आप साल में लगभग 1.50 लाख किलोग्राम पेपर नेपकिन का प्रोडक्‍शन कर सकते हैं। 

यह नैपकिन लगभग 65 रुपए प्रति किलोग्राम की दर से बेच सकते हैं। यानी कि आप साल भर में लगभग 97.50 लाख रुपए का टर्न ओवर कर सकते हैं। 

ऐसे में यदि आप सारे खर्च को जोड़ दें तो लगभग 92.50 लाख रुपए खर्च होंगे। यानी सालाना 5 लाख रुपए बचा सकते हैं। यानी कि आप लगभग 42 हजार रुपए तक कमाई कर सकते हैं।

कैसे करेंगे अप्लाई

मुद्रा योजना के तहत करें अप्लाई इसके लिए प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत आप किसी भी बैंक में अप्लाई कर सकते हैं। इसके लिए आपको एक फॉर्म भरना होगा, जिसमें ये डिटेल देनी होगी जैसे नाम, पता, बिजनेस एड्रेस, एजुकेशन, मौजूदा इनकम और कि‍तना लोन चाहिए। इसमें किसी तरह की प्रोसेसिंग फीस या गारंटी फीस भी नहीं देनी होती। वहीं लोन का अमाउंट आसान किस्तों में लौटा सकते हैं।

(देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं)


अधिक बिज़नेस की खबरें