इस देश में लापरवाही से कोरोना वायरस फैला तो चलेगा हत्या का केस
इटली में कोरोना को लेकर सरकार ने बड़ा कदम उठाया है.


इटली में कोरोना को लेकर सरकार ने बड़ा कदम उठाया है. सरकार ने फैसला किया है कि  कोई व्यक्ति अगर किसी अन्य व्यक्ति को कोरोना से संक्रमित करेगा, तो उसपर हत्या का केस दर्ज किया जाएगा. बता दें कि इटली में कोरोना से मरने वालों की संख्या 1400 के पर पहुंच चुकी है. कोरोना के कहर के चलते चिकित्सा सेवा बदहाल हैं. 

कोरोना वायरस : ईरान, इटली में फंसे 400 भारतीयों की वतन वापसी

इटली सरकार ने कहा अगर कोई कोरोना वायरस से संक्रमित संदिग्ध होते हुए भी खुद को सबसे अलग-थलग न करे तो उसे 6 महीने से लेकर 3 साल तक की जेल हो सकती है और  इसके साथ जुर्माना भी लगाया जा सकता है.


इसके साथ ही इस आदेश में बताया गया है कि अगर कोई कोरोना से पीड़ित व्यक्ति अपनी लापहवाही के चलते किसी दूसरे व्यक्ति को संक्रमित करता है तो उस व्यक्ति पर अंतरराष्ट्रीय हत्या के जुर्म में 21 साल की जेल हो सकती है. 


21 हजार से ज्यादा लोग कोरोना से संक्रमित
आपको बता दें कि इटली में इस समय 21 हजार से ज्यादा लोग कोरोना से संक्रमित हैं. जबकि, 1400 से ज्यादा लोग मर चुके हैं. ये खबर लंदन के एक अखबार ने दी थी.लोगों के मुताबिक इस जानलेवा वायरस का दूसरा सबसे डरावना केंद्र बन गया है इटली. प्रधानमंत्री जियुसेप्पे कॉन्टे ने देश के पांच बड़े इलाकों में लॉकडाउन कर दिया है.


1.60 करोड़ लोग अपने घरों में बंद  
इटली की सरकार के इस आदेश से अब लोम्बार्डी, मोडेना, पर्मा, पियासेंजा, रेजियो एमिलिया, रिमिनी, पेसारो, अर्बिनो, एलेसांड्रिया, अस्ती, नोवारा, वर्बानो-कुसियो-ओसोला, वर्सिली, पादुआ, ट्रेविसो और वेनिस में करीब 1.60 करोड़ लोग अब अपने घरों में बंद हो गए हैं.


यातायात सुविधाओं जैसे रेल, विमान और बस सेवाओं को बंद नहीं किया गया है. लेकिन रेलवे स्टेशन, एयरपोर्ट और बस अड्डों पर लोग न के बराबर हैं.

(देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं)


अधिक विदेश की खबरें