कई दिनों के लिए बैंक में होगी हड़ताल, फिर कैसे चलेगा काम, जाने यहां
कॉन्सेप्ट फोटो



आर्टिकल- वैभव तिवारी, लखनऊ

अगर आप का भी बैंक खाता, किसी भी सरकारी बैंक में है, तो ये खबर आप को पढ़नी चाहिए, सभी सरकारी बैंकों के यूनियन या कहें तो संघठन ने सरकार के नए बैंक प्राइवेटाइजेशन वाले कानून का विरोध करने का फैसला किया है, अभी हाल ही में हुई बैंकों के यूनियन की बैठक हुई है, जिसमे देश भर से अखिल भारतीय बैंक कर्मचारी संघ के सभी संघठनो ने ये फैसला लिया है, की बैंक को प्राइवेटाइजेशन होने के खिलाफ एक बड़ा आंदोलन करना है, जिस कारण सभी बैंक एक लंबे हड़ताल पर जाने का इरादा बना रहीं है। 

 लंबा हो सकता है हड़ताल का समय

आप को बता दें, की इस बैठक के दौरान अलग अलग शहरों से 262 जनरल कॉउन्सिल के सदस्य भाग लिए है, इस बैठक में ये तय हुआ है, की यूनियन और संघठन से जुड़े सभी सरकारी बैंक, केंद्र सरकार के इस नए बैंक निजीकरण के प्रस्ताव का विरोध करेंगे, और यहां तक कि अगर सरकार इनकी मांगे नही मानती है, तो सभी बैंक, लंबे समय तक के लिए हड़ताल के लिए तैयार है।

 पहले भी हो चुकी है हड़ताल

अभी हाल ही में 15 और 16 मार्च को भी हड़ताल हुई थी, जिसमे सभी बैंक के कर्मचारी शामिल हुए थे, आप को बता दें, की इस हड़ताल के कारण, देश भर में 16,500 करोड़ के transaction पर प्रभाव हुआ था, और इतना पैसा मान के चलिए असर हुआ था, जिससे बाजार में दिक्कत आयी थी पैसों की। क्योंकि इस हड़ताल में कम से कम 10 लाख कर्मचारी भी शामिल थे।



 कौन कौन सी सेवा खुली रहेगी, और कब से कब तक रहेगा बैंक बंद

आप को बता दें, की भले ही बैंक की सेवाएं ब्रांच में उपलब्ध नही रहेंगी, लेकिन आप के ऑनलाइन बैंकिंग से जुड़े हुए सभी कार्य,की सेवा उपलब्ध रहेगी, जैसे डेबिट कार्ड या क्रेडिट कार्ड के सेवा मौजूद रहेगी, आप अपने लोन का इंस्टॉलमेंट भर सकते है, FDI का निवेश कर सकते है, मान के चलिए आप के मोबाइल एप्प से होने वाले सभी बैंक के कार्य हो जाया करेंगे और उस पर इस हड़ताल का कोई प्रभाव नही होगा।

आप को बता दें कि बैंक कब कब बंद रहेंगी, क्योंकि कम से कम 10 दिन का तो बैंक हॉलिडे ही है अप्रैल के महीने में, 10अप्रैल, 11 अप्रैल, 13 अप्रैल, 14अप्रैल, 15 अप्रैल , 16 अप्रैल, 18 अप्रैल, 21 अप्रैल, 24 अप्रैल , 25 अप्रैल को बैंक बंद रहेंगी, और बाकी हड़ताल अलग से, इसलिए सारे काम जल्द से जल्द नियत लें, जो निपटाने हो।

(देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते है) 


अधिक बिज़नेस की खबरें