लखनऊ में कोरोना का कहर, 2934 नए केस मिले, 14 लोगों की गई जान 
कॉन्सेप्ट फोटो


लखनऊ : राजधानी लखनऊ में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले लोगों को डरा रहे हैं. नाईट कर्फ्यू लगने के बावजूद शुक्रवार को 2934 लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है. जबकि इलाज के दौरान 14 मरीजों की मौत हो गई है. वहीं विभिन्न अस्पतालों में भर्ती 185 मरीज स्वस्थ हो गए हैं.  जिन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया है. इसके अलावा सूडा निदेशालय के करीब आधा दर्जन कर्मचारी कोरोना संक्रमित पाए गए है. जिसके बाद हड़कंप मच गया है. अभी कई अन्य  कर्मचारियों की  रिपोर्ट आना बाकी है.


कोरोना संक्रमण से अब तक 1278 लोगों की हो चुकी है मौत
लखनऊ में अब तक  1278 लोगों की मौत हो चुकी है. वर्तमान में सक्रिय केसों की संख्या 13478 है, और  84147 लोग विभिन्न स्थानों से इलाज कराकर स्वस्थ हो चुके है.

केजीएमयू पोस्टमार्टम हाउस के दस कर्मचारी कोरोना संक्रमित
केजीएमयू में  स्थित पोस्टमार्टम हाउस के दस कर्मचारी कोरोना संक्रमित हो गए हैं। जिसके कारण ऑटोप्सी के लिए सिर्फ एक कर्मचारी ही बचा है. फिलहाल पोस्टमार्टम का कार्य भी एक दिन के लिए बाधित हो सकता है. यहाँ सैनिटाइजेशन कराया जा रहा है.

सुब्रत राय की कोरोना रिपोर्ट आई पॉजिटिव
सहारा इंडिया परिवार के अध्यक्ष और सहारा इंडिया के मैनेजिंग वर्कर सुब्रत रॉय सहारा कोरोना वायरस की चपेट में हैं. उनका कल कोविड टेस्ट हुआ था. उनकी रिपोर्ट आज पॉजिटिव आई है. उन्होंने सभी से अपील की है कि इस समय विश्व भर में कोविड मामलों की संख्या बढ़ रही है. इस समय हमारी प्राथमिकता सुरक्षित रहने की होनी चाहिए. मेरी सभी से अपील है कि वह लोग मास्क जरूर लगाने के साथ ही साथ फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन भी करें.          

बलरामपुर अस्पताल में रिजर्व किए गए तीन सौ बेड
कोरोना वायरस के बढ़ते  प्रकोप के मद्देनजर  प्रदेश सरकार के निर्देश पर बलरामपुर अस्पताल  में 300 बेड रिजर्व किए गए है. यहां पर 300 बेड का कोविड अस्पताल संचालित होगा. जबकि टीएस मिश्रा मेडिकल कॉलेज को भी कोविड अस्पताल का दर्जा दे दिया गया है.



अधिक राज्य/उत्तर प्रदेश की खबरें