भाजपा शासन में भेद-भव नहीं होता : मुख्यमंत्री योगी
फाइल फ़ोटो


गढ़मुक्तेश्वर : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पहले चरण में मतदान होने वाले विधानसभा क्षेत्रों में प्रचार के लिए आज मेरठ और हापुड़ जिलों के दौरे पर थे . इसी कड़ी के वे मेरठ के हस्तिनापुर और कंकड़खेडा में जनसंपर्क व जनसभा के बाद गढमुक्तेश्वर विधानसभा पहुँचे . गढ़मुक्तेश्वर कस्बे से लगभग 10 किलोमीटर दूर बहादुरगढ़ के पास एक इंटर कॉलेज में उन्होंने भाजपा प्रत्याशी हरेंद्र तेवतिया के समर्थन में आयोजित जनसभा को संबोधित किया .

मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार में असली रूप में सबका साथ और सबका विकास हुआ है . पूर्ववर्ती सरकारों में कानून व्यवस्था की स्थिति ऐसी नहीं थी जैसी आज है .उन्होंने कहा कि भाजपा की सरकार धर्म या जाति के नाम पर कोई भेदभाव नहीं करती . उन्होंने पिछली सपा सरकार के गुंडाराज और तुष्टीकरण की नीति को रेखांकित करते हुए कहा कि 5 साल पहले घर से निकलना मुश्किल था और विकास के नाम पर केवल एक वर्ग को फायदा होता था . हमारी सरकार में ऐसा नहीं होता . प्रदेश की जनता हमारे लिए बराबर है और हम सभी वर्गों का ध्यान रखते हैं .

उन्होंने कहा कि गढ़मुक्तेश्वर से भाजपा प्रत्याशी चौधरी हरेंद्र तेवतिया योग्य और कर्मठ राजनेता हैं उन्होंने जनता से अपील किया कि वह लोग चौधरी तेवतिया को भारी मतों से विजई बनाएं और प्रदेश में भाजपा की सरकार बनाने में सहयोग करें . ज्ञातव्य है कि चौधरी हरेंद्र तेवतिया पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय चौधरी चरण सिंह के परिवार से हैं . उनको गढ़मुक्तेश्वर विधानसभा सीट से पूर्व विधायक कमल सिंह मालिक के स्थान पर टिकट मिला है . आज की जनसभा में पूर्व विधायक मालिक भी अपने समर्थकों के साथ मौजूद थे और उन्होंने अपनी तरफ से हरेंद्र तेवतिया के पक्ष में चुनाव प्रचार करने और उनको भारी बहुमत से जितने का संकल्प व्यक्त किया . इस जनसभा में क्षेत्र के अनेक प्रभावशाली भाजपा नेता मौजूद थे जिसमें प्रोफेसर हरेंद्र सिंह डॉक्टर नीलम कुमारी आज के नाम प्रमुख हैं


अधिक राज्य/उत्तर प्रदेश की खबरें

लखनऊ फिल्म फोरम व विविध सेवा संस्थान के संयुक्त तत्वावधान में दि मर्चेंट ऑफ वेनिस का नौटंकी शैली में दयावान व्यापारी का मंचन

लखनऊ फिल्म फोरम व विविध सेवा संस्थान के संयुक्त तत्वावधान में दि मर्चेंट ऑफ वेनिस का नौटंकी शैली में दयावान व्यापारी का मंचन..

आज लखनऊ रंगमंच के दर्शकों के लिए यह बिलकुल अनूठा अनुभव था जब हारमोनियम ,ढोलक और नक्कारे ... ...