तुलसी का पानी पीने से क्या-क्या मिल सकते हैं फायदे, आप भी जानें
प्रतीकात्मक फोटो


रोजमर्रा की जिंदगी में बाजार या ऑफिस जाते हुए महिलाएं अक्सर भारी प्रदूषण के संपर्क में आती हैं। जहरीली गैस और गाड़ियों से निकलने वाला धुआं जब सासों के जरिए शरीर में जाता है तो यह कई तरह की हेल्थ प्रॉब्लम्स क्रिएट करता है। सिर्फ बाहर ही नहीं, आसपास के वातावरण और घर में भी ऐसी कई चीजें होती हैं, जो प्रदूषण को जन्म देती हैं। प्रदूषण से अस्थमा, खांसी, आंखों की रोशनी कमजोर होना, सिरदर्द रहना, फेफड़ों में इन्फेक्शन होनी कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है। ऐसे में महिलाओं को प्रदूषण से खुद को सुरक्षित रखने के लिए पर्याप्त इंतजाम करना बहुत जरूरी है। आइए जानते हैं एक ऐसे उपाय के बारे में, जिससे महिलाएं अपने घर की हवा को शुद्ध बनाकर प्रदूषण से होने वाली समस्याओं से खुद को बचा सकती हैं। 



बहुत सी महिलाएं मानती हैं कि प्रदूषण के प्रभाव में आने की वजह से हमारे शरीर का खून भी दूषित होने लगता है। प्रदूषित हवा हमारी सांसों के जरिए फेफड़ों में चली जाती है और शरीर को बीमार कर सकती है। पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन ना मिलने और प्रदूषित हवा के संपर्क में आने की वजह से धीरे-धीरे शरीर में कार्बन डाईऑक्साइड की मात्रा बढ़ सकती है। इस स्थिति को कार्बोऑक्सिहीमोग्लोबिन कहते हैं।

तुलसी का गुनगुना पानी है अमृत

अगर तुलसी से बने काढ़े का नियमित रूप से सेवन किया जाए तो इससे प्रदूषण के असर को प्रभावी तरीके से कम किया जा सकता है। इसके लिए तुलसी के 10 पत्तों, जरा सी अदरक, गुड़ और दो कालीमिर्च डालकर एक गिलास पानी के साथ उबाल लें। जब यह पानी उबल कर एक चौथाई रह जाए तो इसे छान लें और पी लें। 


(देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते है)




अधिक सेहत/एजुकेशन की खबरें