दिल्ली एमसीडी चुनाव : BJP 15 साल बाद सत्ता से बाहर, आम आदमी पार्टी को बहुमत
एमसीडी चुनाव


नई दिल्ली : आम आदमी पार्टी को दिल्ली में एमसीडी चुनाव में  स्पष्ट बहुमत मिल गया है. चुनाव आयोग की वेबसाइट के मुताबिक आप को 129 सीटों पर जीत मिल गई है जबकि 4 पर वह आगे चल रही है. गौरतलब है एमसीडी में बहुमत का जादुई आंकड़ा 126 है. आप की एमसीडी चुनाव में इस जीत के बाद बीजेपी 15 साल बाद सत्ता से बाहर हो गई है.

बता दें कि एक निगम चुनाव होने के बावजूद यह एक हाई प्रोफाइल मुकाबला बन गया था क्योंकि डेढ़ दशक से एमसीडी की सत्ता पर काबिज बीजेपी की साख दांव पर लगी थी. दिल्ली विधानसभा चुनावों में आप लगातार बीजेपी को मात दे रही थी लेकिन भगवा पार्टी ने एमसीडी में अपनी सत्ता बरकरार रखी.

आम आदमी पार्टी यह चुनाव जीत कर पूरे देश को यह मैसेज देना चाहती थी कि अगर बीजेपी का विजयी रथ कोई रोक सकता है तो वह सिर्फ केजरीवाल ही हैं. इसमें वह कामयाब होती दिख रही है. हालांकि आप के उम्मीद के मुताबिक चुनाव नतीजों में उसे क्लीन स्वीप नहीं मिली है बल्कि बीजेपी और आप के बीच फासला काफी कम है. वहीं कांग्रेस पिछले चुनाव की तरह इस बार भी MCD चुनाव में कोई छाप छोड़ नहीं पाई.

केजरीवाल का कूड़े का मुद्दा सब पर पड़ा भारी
बीजेपी इस चुनाव को जीतने के लिए अपनी पूरी ताकत झोंक दी थी, पार्टी ने केंद्रीय मंत्रियों समेत कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों के प्रचार में उतार दिया था. लेकिन ऐसा लगता है कि बीजेपी के उठाए गए मुद्दों से ज्यादा केजरीवाल द्वारा उठाया गया कूड़े का मुद्दा सब पर भारी पड़ गया है.

परिसीमन के बाद पहला चुनाव
यह चुनाव इस लिहाज से भी खास है कि यह परिसीमन के बाद पहला चुनाव है. केंद्र सरकार ने इस साल की शुरुआत में दिल्ली के तीनों नगर निगमों का फिर से एकीकरण कर दिया था. परिसीमन के बाद दिल्ली में वार्ड की संख्या 250 हो गई थी.


(देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते है)


अधिक देश की खबरें

कांग्रेस और सपा के अलावा वरुण गांधी को मिला तीसरा विकल्प, संयुक्त विपक्ष के हो सकते हैं उम्मीदवार

कांग्रेस और सपा के अलावा वरुण गांधी को मिला तीसरा विकल्प, संयुक्त विपक्ष के हो सकते हैं उम्मीदवार..

यूपी के पीलीभीत से बीजेपी सांसद वरुण गांधी के राजनीतिक भविष्य को लेकर लगातार चर्चा हो रही ... ...