एसबीआई खाताधारकों को बड़ा झटका, सेविंग अकाउंट्स पर की इतने फीसदी की कटौती 
11 मार्च को SBI ने सभी ग्राहकों के लिए अपनी बचत बैंक ब्याज दर को घटाकर 3 फीसदी कर दिया था.


नई दिल्ली: भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने कोरोना वायरस के चलते देश भर में हुए लॉकडाउन के पहले बचत खाते में मिलने वाले ब्याज में कटौती करने का ऐलान किया था. जो बुधवार 15 अप्रैल से प्रभावी हो गया है. इस ऐलान के साथ ही अब खाताधारकों को 0.25 फीसदी कम ब्याज मिलेगा. हालांकि बैंक ने अपने एटीएम कार्ड धारकों को भी बड़ी राहत दी है.

बैंक ने वेबसाइट पर की घोषणा
बैंक ने अपनी ऑफिसियल वेबसाइट पर इस बात की घोषणा करते हुए कहा कि अब से खाताधारकों को उनके बचत खाते में 2.75 फीसदी ब्याज मिलेगा. बैंक ने एक बयान में कहा कि बैंकों के पास पर्याप्त नकदी होने की वजह से उसने बचत जमा ब्याज दर में 0.25 फीसदी की कटौती का निर्णय किया है.

होम लोन की दर में भी कमी
एसबीआई ने सीमांत लागत आधारित ऋण ब्याज दर (एमसीएलआर) में 0.35% कटौती की घोषणा की है. इससे आपकी होम लोन की ईएमआई कम हो जाएगी. बैंक ने कहा कि इससे 30 वर्ष की अवधि वाले होम लोन की मासिक किश्त प्रति एक लाख रुपये कर्ज पर 24 रुपये कम हो जाएगी.

15 अप्रैल से SBI बचत खाता पर ब्याज दर
11 मार्च को SBI ने सभी ग्राहकों के लिए अपनी बचत बैंक ब्याज दर को घटाकर 3 फीसदी कर दिया था. पहले यह 1 लाख तक की शेष राशि पर 3.25 फीसदी था, और 1 लाख से ज्यादा पर ऊपर 3 फीसदी था. अब ये सभी बचत पर 2.75 फीसदी हो गया है.

एटीएम कार्ड धारकों के लिए बड़ी राहत
हालांकि बैंक ने अपने एटीएम कार्ड धारकों को बड़ी राहत देते हुए कहा है कि वो 30 जून तक एटीएम पर मुफ्त 5 ट्रांजेक्शन के बाद लगने वाले सर्विस चार्ज को 30 जून तक हटा रही है.

अधिक बिज़नेस की खबरें