संगीत नाटक अकादमी पुरस्‍कार और पद्म भूषण से नवाजे गए मोहम्‍मद जहूर 'खय्याम' हाशमी ने 17 बरस की उम्र में पंजाब के लुधियाना शहर से म्‍यूजिक की दुनिया में सफर शुरू किया था.