लाफिंग बुद्धा को क्यों माना जाता है गुड लक का प्रतीक, क्या है इनकी हसी के पीछे का राज़।
laughing buddha


 report ; VAIBHAV TEWAARI

महात्मा बुद्ध के कई सारे शिष्य थे उनमे से एक का नाम था होतेई जो कि जापान से थे।
लाफिंग बुद्धा को फेंगशुई के भगवान भी माना जाता है।
घर मे लाफिंग बुद्धा की मूर्ति से सुख समृद्धि और खुशहाली आती है.

 आप ने अक्सर लाफिंग बुद्धा की मूर्ति लोगों के घर या आफिस मे देखी होगी। कहा जाता है कि लाफिंग बुद्धा की मूर्ति घर मे रखने से गुड लक मिलता है। काफी लोग इनकी मूर्ति को उपहार के रूप से भी देते है। आइये आप को बताते है कि लाफिंग बुद्धा कौन थे और इनकी मूर्ति को इतना शुभ क्यों माना जाता है।


 महात्मा बुद्ध के जापानी शिष्य थे होतेई

ऐसा माना जाता है कि महात्मा बुद्ध के कई शिष्य थे, उनमे से एक का नाम होतेई था जो कि जापान से थे। बताते है कि जब होतेई को ज्ञान की प्राप्ति हुई थी। तब वह ज़ोर ज़ोर से हसने लगे थे। तभी से उनके जीवन का एक मात्र लक्ष्य लोगों को हसाना हो गया था। होतेई का शरीर गोल मटोल था और उनका बड़ा सा पेट निकला हुआ था। वो जब भी लोगों के बीच होते थे, तो ज़ोर ज़ोर से हसंते थे और अपने पेट को हिलाया करते थे, और माहौल को खुशनुमा कर देते थे। उनके इसी व्यवहार की वजह से लोग उनको लाफिंग बुद्धा कह कर पुकारने लगे थे। बाकी बौद्ध गुरुओं की ही तरह लाफिंग बुद्धा के भी अनुयायियों ने उनके एकमात्र उद्देश्य को देश और दुनिया मे फैलाया था।

 फेंगशुई का माना जाता है भगवान।

होतेई के फॉलोवर्स ने उनका इस तरह से प्रचार करना शुरू किया था की चीन और जापान के लोग उनको भगवान मानने लगे थे, और उनकी मूर्ति को घर मे रखना शुरू कर दिया था। चीन में होतेई को पुताई कहा जाता था, और उनको फेंगशुई के भगवान मानने लगे थे। ऐसा माना जाता है कि अगर आप लाफिंग बुद्धा की मूर्ति को घर में रखते है तो उससे घर मे खुशहाली आती है। और नेगेटिविटी गायब हो जाती है।


 तोहफे में मिलने वाला लाफिंग बुद्धा होता है शुभ।

फेंगशुई के अनुसार अगर आप लाफिंग बुद्धा को घर पर खुद खरीद के रक्खेंगे तो उतना असरदार नही होता है। इसलिए ज़्यादातर लोग अपने करीबियों को लाफिंग बुद्धा तोहफे में देते है।


 कई मुद्राओं में होते है लाफिंग बुद्धा। 

लाफिंग बुद्धा को कई तरह के पासेस के साथ देखा जाता है, कोई हाथ उठाये होता है, तो कोई लेता है होता है, हालांकि मुद्रा चाहे जो भी हो , पर लाफिंग बुद्धा को घर और रखना शुभ होता है। पर ये भी कहा जाता है कि हस्ते हुए लाफिंग बुद्धा को जो बैठे हुए होते है उनको घर मे रखना ज़्यादा शुभ होता है। फेंगशुई में बताते है कि लाफिंग बुद्धा को सही दिशा में रखने से इसका असर ज़्यादा एच और बेहतरीन होता है। पूर्वी दिशा में रखने पर घर मे खुशियां आने के साथ साथ , परिवार के बीच प्यार भी बढ़ता है, नौकरी अथवा व्यापार में भी बढ़ोतरी होती है।





अधिक जरा हटके की खबरें

 लाफिंग बुद्धा को क्यों माना जाता है गुड लक का प्रतीक, क्या है इनकी हसी के पीछे का राज़।

तोता हुआ गुम , उड़ गए होश, छह माह बाद भी न खोज पाई नोएडा पुलिसतोता हुआ गुम , उड़ गए होश, छह माह बाद भी न खोज पाई नोएडा पुलिस..

दिल्ली से सटे नोएडा में एक तोता अचानक गायब हो गया। तोता गायब देख उसे अपने बच्चे ......

 लाफिंग बुद्धा को क्यों माना जाता है गुड लक का प्रतीक, क्या है इनकी हसी के पीछे का राज़।

हरयाणा के अद्भूत भैंसे ‘सुल्तान’ की हार्ट अटैक से मौत, रोजाना पीता था महंगी शराब, लाखों में बिकते थे इसके सीमन- जाने ‘सुल्तान’ में क्या थीं खास बात..

हरयाणा के मशहूर भैंसे “सुल्तान” की दिल का दौरा (Heart Attack) पड़ने से मौत हो गई है। ......