सरकार ने छोटी बड़ी योजनाओं के ब्याज दर में कटौती के फैसले को लिया वापस, पहले की तरह मिलेगा ब्याज 
वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण


सरकार की ओर से बुधवार (31 मार्च) को बचत योजनाओं के ब्याज दर में कटौती का ऐलान किया गया था जिसके बाद आज उसे वापस ले लिया गया है. वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने गुरुवार सुबह ट्वीट कर खुद इस बारे में जानकारी दी. सरकार के इस फैसले के बाद करोड़ो लोगों को इससे राहत मिलेगी.

गौरतलब है कल यानि बुधवार को सरकार की ओर से एक नोटिफिकेशन में कहा गया था कि एक अप्रैल 2021 सभी छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज की दर को घटा दिया था. सरकार द्वारा यह नोटिफिकेशन नए वित्त वर्ष की पहली तिमाही के लिए जारी किया गया था. लेकिन अब वित्त मंत्री ने कहा कि सभी योजनाओं पर ब्याज दर पुरानी ही लागू रहेगी, जो पिछली मार्च तिमाही में थी.

पहले हुआ था ये ऐलान
बता दें कि सरकार ने बुधवार को जारी नोटिफिकेशन में सामान्य बचत खातों में जमा राशि पर ब्याज दर को चार फीसदी से घटाकर 3.5 फीसदी सालाना करने का फैसला किया था. इसके अलावा 1 साल से लेकर पांच साल तक की सभी छोटी बचत योजनाओं पर भी ब्याज दर में कटौती की गई थी. पांच साल तक की रिकरिंग डिपॉजिट योजना पर ब्याज दर 5.8 फीसदी से घटाकर 5.3 फीसदी कर दी गई थी. इसके साथ ही रिकों की बचत योजनाओं पर ब्याज दर को 7.4 फीसदी से घटाकर 6.5 फीसदी करने का ऐलान किया गया था. इसी प्रकार से राष्ट्रीय बचत पत्र, किसान विकास पत्र पर भी ब्याज दर घटाई गई थी. पीपीएफ पर मिलने वाले ब्याज की दर को 7.1 फीसदी से घटाकर 6.4 फीसदी सालाना कर दिया गया था. एक साल तक की जमा पर ब्याज दर को 5.5 फीसदी से घटाकर 4.4 फीसदी तिमाही कर दिया गया था.

अब मिलेगा इतना ब्याज
सरकार द्वारा ब्याज दरों में कटौती की दर को वापस लिए जाने के ऐलान के बाद सभी बचत योजनाओं पर ब्याज पहले की तरह मिलता रहेगा. जो इस प्रकार है.



(देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते है)

अधिक बिज़नेस की खबरें

सरकार ने छोटी बड़ी योजनाओं के ब्याज दर में कटौती के फैसले को लिया वापस, पहले की तरह मिलेगा ब्याज 

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी जारी, मध्य प्रदेश के इस जिले में पेट्रोल 116.44 और डीजल 105.59 रुपए प्रति लीटर पहुंचा ..

अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम रिकॉर्ड बढ़ोतरी पर है. जिसका भारतीय बाजारों में भी देखने ......

सरकार ने छोटी बड़ी योजनाओं के ब्याज दर में कटौती के फैसले को लिया वापस, पहले की तरह मिलेगा ब्याज 

रिलायंस का जर्मनी और डेनमार्क की कंपनियों में निवेश के साथ रणनीतिक साझेदारी..

रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड आरआईएल की पूर्ण स्वामित्व वाली कंपनी रिलायंस न्यू एनर्जी सोलर लिमिटेड आरएनईएसएल ने दो ......