अशोक गहलोत अगर बने कांग्रेस अध्यक्ष तो कौन संभालेगा राजस्थान की सत्ता? खुद बताया 
अशोक गहलोत


नई दिल्ली : राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत कांग्रेस अध्यक्ष का चुनाव लड़ने के लिए तैयार है और उन्होंने कहा कि नेतृत्व जो भी जिम्मेदारी देगा उसे बखूबी निभाउंगा। उन्होंने कहा कि अगर कहा जाएगा तो मैं नामांकन भी करने लके लिए तैयार हूं. गौरतलब है अब से कुछ देर अशोक गहलोत कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात करेंगे.

गौरतलब है कि अब बात ये कही जा रही है कि क्या अशोक गहलोत अध्यक्ष बनने के बाद मुख्यमंत्री का पद छोड़ेंगे या फिर नहीं। फिलहाल उनकी बातों से नहीं लगता है है कि वह सीएम पद छोड़ेंगे. गहलोत से जब एक पद को लेकर सवाल पूछा गया तो गहलोत ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष के चुनाव में कोई भी खड़ा हो सकता है चाहे वो मंत्री हो या मुख्यमंत्री. लेकिन कयास ये भी लगाए जा रहे हैं कि अगर गहलोत अध्यक्ष बनते हैं तो सचिन पायलट को राजस्थान की कमान सौंपी जा सकती है.

कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव में कितने दावेदार

अशोक गहलोत-नामांकन दाखिल करेंगे
राहुल गांधी- चुनाव लड़ने पर संशय
शशि थरूर- दावेदारी की इच्छा जताई

अशोक गहलोत की प्रोफाइल
राजस्थान के 3 बार के मुख्यमंत्री
गांधी परिवार के करीबी
पार्टी का बड़ा OBC चेहरा
केंद्र और संगठन का 40 साल का अनुभव
हिन्दी बेल्ट में पार्टी को दे सकते हैं मजबूती

गहलोत ने कहा कि वह कोच्चि जाकर राहुल गांधी को इस बात के लिए मनाने का आखिरी प्रयास करेंगे कि वह पार्टी अध्यक्ष का पद संभालें. उनका कहना था कि राहुल गांधी से बातचीत करने के बाद ही वह तय करेंगे कि आगे क्या करना है. गहलोत ने कहा, 'मुझे कांग्रेस की सेवा करनी है.

'बस चले तो किसी पद पर नहीं रहूं'
गहलोत ने कहा, 'अगर मेरा बस चले तो मैं किसी पद पर नहीं रहूं. मैं राहुल गांधी के साथ सड़क पर उतरूं और फासीवादी लोगों के खिलाफ मोर्चा खोलूं.'उनका कहना था, 'मुझे पार्टी ने सब कुछ दिया है, आज अगर पार्टी संकट में है तो इनके (भाजपा के) कारनामों के कारण है, कोई हमारी गलतियों से नहीं है.आज जो स्थिति है उसमें कांग्रेस का मजबूत होना जरूरी है. कांग्रेस की मजबूती के लिए जहां जरूरत होगी, वहां मैं खड़ा रहूंगा.'

(देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते है)

अधिक देश की खबरें