सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के लिए सरकार ने बनाए नये नियम, Whatsapp पर मंडराया खतरा
कॉन्सेप्ट फोटो


केंद्र सरकार की ओर से गुरुवार को सोशल मीडिया के लगभग सभी प्‍लेटफॉर्म्‍स के लिए नई गाइडलाइंस जारी की गई है। जिसके बाद सबसे खतरा व्हाट्सएप पर मंडरा रहा है। बता दें कि नई गाइडलाइंस के दायरे में फेसबुक, ट्विटर, वाट्सऐप जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्‍स और नेटफ्लिकस, ऐमजॉन प्राइम, हॉटस्‍टार जैसे ओटीटी प्‍लेटफॉर्म्‍स आएंगे. सरकार की ओर से इस संबंध में दिशानिर्देश तैयार किए जा चुके है और जल्द ही उन्हें लागू किया जाएगा. 

 जारी की गई नई गाइडलाइन्स

नई गाइडलाइंस के मुताबिक, सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म को किसी भी आपत्तिजनक कंटेंट की शिकायत होने पर उसे 36 घंटे के भीतर हटाना होगा. साथ ही डिजिटल मीडिया को इलेक्ट्रॉनिक मीडिया की तरह ही सेल्फ रेगुलेशन करना होगा. रविशंकर प्रसाद ने कहा कि सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का भारत में व्यापार करने का स्वागत है, सरकार आलोचना के लिए तैयार है.


भारत में इन प्लेटफॉर्म पर हैं इतने यूजर

WhatsApp - 53 करोड़
YouTube - 44 करोड़
Facebook - 41 करोड़
Instagram - 21 करोड़
Twitter - 1.75 करोड़

सोशल मीडिया के लिए जो गाइडलाइन्स जारी की गई हैं, वो 3 महीने में लागू कर दी जाएंगी. रविशंकर प्रसाद ने कहा आपके पास शिकायत आएगी तो उसको रजिस्टर करना और उसका निष्पादन करना आपकी जिम्मेदारी है. अगर आप इसका पालन नहीं करते हैं आईटीएक्ट में जो व्यवस्था है उसके तहत कार्रवाई होगी

(देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते है)


अधिक बिज़नेस की खबरें

अडाणी समूह के शेयरों में जारी उतार-चढ़ाव के बीच रिजर्व बैंक ने बैंकों से मांगा कर्ज और निवेश का ब्योरा

अडाणी समूह के शेयरों में जारी उतार-चढ़ाव के बीच रिजर्व बैंक ने बैंकों से मांगा कर्ज और निवेश का ब्योरा..

बिजनेसमैन गौतम अडानी की मुश्किलें कम होती नहीं दिख रही हैं. रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) ने ... ...