आंखों को स्वस्थ रखने के लिए अपनाएं ये एक्सरसाइज, चश्में से मिलेगा निजात
प्रतीकात्मक फोटो 


नई दिल्ली : आंख आपके शरीर का वो अभिन्न हिस्सा है जिसकी मदद से हम सबकुछ देख सकते हैं, पढ़ सकते हैं और लिख भी सकते हैं. आंख के बिना जिंदगी का कोई मतलब नहीं हैं. हालांकि ऐसा भी नहीं है कि जिसकी आंखे नहीं वो भी जिंदगी को जीते हैं. लेकिन सबसे ज्यादा उसके लिए दो वक्त की रोटी है जो उसे बड़े नसीब से मिलती है. आंख ही है जिससे लोग दुनिया देखते हैं.

आज के समय क्या बूढ़ा, क्या जवान और क्या युवा वर्ग हर कोई आंख की समस्या से परेशान है कम उम्र में बच्चों को भी हाई पावर का चश्मा लग जाता है. इसके पीछे की वजह है हमारा खान पान  बदलती लाइफस्टाइल है. जो हमारी आंखों पर सीधे हमला कर रहा है. आज आप आंखों से जुड़ी एक्सरसाइज के बारे में जान लें जिससे आपकी आंखों को हमेशा हेल्थी रखने में मदद मिलेगी.

कभी-कभी काम का वर्कलोड अधिक होने के चलते आपको आंख झपकने तक का मौका नहीं मिलता है. जिस कारण आपके आंख की टियर फिल्म सूख जाती है, इसकी वजह से आपके आंखों के सामने धुंधलापन की समस्या उत्पन्न हो जाती है.

पलकें झपकाना
इससे बचने के लिए आपको अपनी आंखों को करीब 2 मिनट तक 4-4 सेकेंड के लिए लगातार झपकते रहना है फिर अचानक से आंखों को तेजी से बंद करें लें. इसी कुछ सेकेंड के लिए बंद रखने के बाद आंखों को धीरे-धीरे खोलना चाहिए. दिन में आप इस क्रिया को चार से पांच बार दोहराएं। इससे आपका तनाव कम होगा और आंखों की थकान भी दूर होगी. आंखों में दोबारा से लुब्रिकेशन हो जाएगा.

पेंसिल पुश अप्स
आंखो बेहतर सेहत के लिए पेंसिल पुशअप्स सबसे अच्छी एक्सरसाइज है. ये आंखों की मांसपेशियों को मजबूत करती है. इसके जरिए प्रेसबायोपिया को रोका जा सकता है. इसके लिए एक पेन या पेंसिल को एक हाथ की दूरी पर रखकर अपनी आंखों के सामने पकड़ें और उसकी टिप पर फोकस करें. धीरे-धीरे उसे अपनी आंखों की ओर लेकर आएं. जब तक टिप आपको एक से दो न दिखाई देने लगे, तब तक उसे देखते रहें. जैसे ही टिप दो भागों में बंटे, इसे फिर से दूर ले जाएं और इस क्रम को फिर से दोहराएं. एक बार में ये क्रम 10 से 15 बार दोहराएं.

पामिंग
आरामदायक स्थिति में बैठें और कुछ पल के लिए आंखें बंद कर लें. हथेलियों को रगड़कर ऊर्जा पैदा करें और बंद आंखों पर रखें. उंगलियों से पलकों और भौहों की 10-20 सेकंड तक मसाज करें. ऐसा करने से आंखों की थकान दूर होती है. ब्लड सर्कुलेशन अच्छा रहता है और आंखों के की मांसपेशियों को भी आराम मिलता है. इससे ड्राइनेस की समस्या दूर होती है.

आंखों को गोल-गोल घुमाएं
खुद 6 फीट की दूरी पर एक बड़ा सा 8 लिखकर वॉल पर लगाएं. अब अपनी आंखों की पुतलियों को 8 की फिगर के अनुसार पहले क्लॉकवाइज फिर एंटी क्लॉक वाइज डायरेक्शन में घुमाएं. इससे कुछ दिनों में काफी आराम महसूस होगा. इसके अलावा आप आंखों की पुतलियों को घड़ी की सीधी और उल्टी दिशा में गोल-गोल भी घुमा सकते हैं. इस तरीके को दिन में 10 से 15 बार आजमाएं. ऐसा करने से आपकी आंखें स्वस्थ रहेंगी और उनकी रोशनी भी बढ़ेगी.

रोजाना पानी से धोएं आंखें
आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए रोजाना सुबह और शाम आंखों में ठंडे पानी के छींटे मारने चाहिए. ऐसा करने से आंखें स्वस्थ रहती हैं और उनकी रोशनी भी बढ़ती है.


अधिक सेहत/एजुकेशन की खबरें