नैंसी पेलोसी बोली पूरा अमेरिका ताइवान के साथ, डरने की नहीं है जरूरत
नैंसी पेलोसी और ताइवान की राष्ट्रपति साई इंग-वेन


ताइपे : चीन की धमकी के बावजूद अमेरिकी प्रतिनिधि सभा की अध्यक्ष नैंसी पेलोसी ताइवान दौरे पर है। अब से कुछ देर बाद नैंसी पेलोसी ताइवान से दक्षिण कोरिया के लिए रवाना होंगी। अपने दौरे के दौरान पेलोसी ने कहा कि ताइवान के साथ अमेरिका खड़ा है। उन्होने कहा कि अमेरिका अपने वादे से कभी भी पीछे नहीं हटेगा। इस घटनाक्रम से बौखलाए चीन ने पेलोसी के ताइवान दौरे को ‘बेहद खतरनाक’ बताया है।

नैंसी पेलोसी ने ताइवान के राष्ट्रपति के साथ संयुक्त बयान भी जारी किया है। उन्होंने कहा कि हम यहां आपकी बात सुनने और आपसे सीखने के लिए हैं कि हम एक साथ कैसे आगे बढ़ सकते हैं। हम आपको कोविड के मुद्दे को सफलतापूर्वक संबोधित करने के लिए बधाई देते हैं। यह स्वास्थ्य, अर्थव्यवस्था, सुरक्षा और शासन का मुद्दा भी है।

ताइवान दौरे पर अमेरिकी प्रतिनिधि सभा की अध्यक्ष नैंसी पेलोसी ने कहा कि हमें इस बारे में बातचीत की प्रतीक्षा है कि कैसे हम मिलकर इस ग्रह को जलवायु संकट से बचाने के लिए काम कर सकते हैं। हम आपके नेतृत्व के लिए धन्यवाद करते हैं और चाहते हैं कि दुनिया इसे पहचाने। हमारी यात्रा मानवाधिकारों, अनुचित व्यापार प्रथाओं, सुरक्षा मुद्दों को लेकर है।

उल्लेखनीय है कि पेलोसी के दौरे से एक दिन पहले ही चीन ने अमेरिका को चेतावनी देते हुए था कहा कि अगर वह ताइवान का दौरा करती हैं तो अमेरिका कीमत चुकाने के लिए तैयार रहे।  चीन ने पेलोसी के दौरे को अमेरिका के लिए ‘आग से खेलने’ के रूप में परिभाषित किया है।

चीन की इस प्रतिक्रिया पर अमेरिकी राष्ट्रीय सुरक्षा प्रवक्ता जॉन किर्बी ने कहा- “इस यात्रा को संकट या संघर्ष के लिए एक उत्साहजनक घटना बनने का कोई कारण नहीं है।” उन्होंने दोहराया कि यह यात्रा चीन के प्रति अमेरिका की लंबे समय से चली आ रही नीति के अनुरूप है और देश की संप्रभुता का उल्लंघन नहीं करती है।


(देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते है)


अधिक विदेश की खबरें