मैं विराट कोहली पर से दबाव कम करना चाहता था : ग्लेन मैक्सवेल
ग्लेन मैक्सवेल


मुंबई : गुजरात टाइंटस के खिलाफ रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) के बल्लेबाज ग्लेन मैक्सवेल ने 18 गेंदों में नाबाद 40 रनों की तूफानी पारी खेली, जिसकी बदौलत आरसीबी ने 18.4 ओवर में 169 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए 8 विकेट से जीत दर्ज की। मैच के बाद मैक्सवेल ने कहा, "मैं विराट कोहली पर से दबाव कम करना चाहता था। मैं जानता था कि अगर मैं तेज बल्लेबाजी करूंगा तो दूसरे छोर पर विराट से दबाव कम होगा,अगर मैं पहली गेंद पर आउट हो जाता, तो कोई फर्क नहीं पड़ता, लेकिन मेरी सकारात्मक बल्लेबाजी से कोहली को कुछ गति मिल सकती थी।"


मैक्सवेल का पिच पर उतरते ही राशिद खान से सामना हुआ। मैक्सवेल ने राशिद की जिस पहली गेंद का सामना किया वह स्टंप्स पर लगी, लेकिन बेल्स बाहर नहीं गिरी, जिससे उन्हें बड़ी राहत मिली। मैक्सवेल ने कहा, "भाग्य से आपको वह समय मिलता है जब आपको जरूरत होती है। थोड़ा सा भाग्य मेरे साथ था। कभी-कभी इस पूरे टूर्नामेंट में, यह थोड़ा ऊपर और नीचे रहा है। कुछ चीजें ऐसी हैं, जिनके बारे में आप कुछ नहीं कर सकते हैं, लेकिन भाग्य ने मेरा साथ दिया,कम से कम बेल्स इस बार मेरे लिए रुके थे।"

ऑस्ट्रेलियाई ऑलराउंडर मैक्सवेल न केवल बल्ले से शानदार थे, बल्कि वह मैदान पर भी अद्भुत थे, जोश हेज़लवुड की गेंद पर शुभमन गिल का शानदार कैच लेकर उन्होंने आरसीबी को पहली सफलता दिलाई। इसके अलावा ग्लेन मैक्सवेल ने चार ओवर में 28 रन देकर 1 विकेट भी लिया। उन्होंने मैथ्यू वेड(16) को आउट कर दिया।

गुजरात के खिलाफ मुकाबले की बात करें तो इस मैच में गुजरात ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 5 विकेट पर 168 रन बनाए। गुजरात की तरफ से कप्तान हार्दिक पांड्या ने बेहतरीन अर्धशतकीय पारी खेलते हुए 47 गेंदों पर नाबाद 62 रन बनाए। पांड्या के अलावा डेविड मिलर ने 34, ऋद्धिमान साहा ने 31 और राशिद खान ने 6 गेंदों पर आतिशी 19 रन बनाए। आरसीबी की तरफ से जोश हेजलवुड ने 2, ग्लेन मैक्सवेल और वाहिंदु हसरंगा ने 1-1 विकेट लिया।

(देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते है)

अधिक खेल की खबरें

इस भारतीय गेंदबाज ने बनाया एक और रिकॉर्ड, इंग्लैंड में एक टेस्ट सीरीज में लिए सर्वाधिक विकेट..

इंग्लैंड के खिलाफ यहां जारी पांचवें और आखिरी टेस्ट मैच में भारतीय क्रिकेट टीम के कार्यवाहक कप्तान ......