शराब पीते ही लोग क्यों बोलने लग जाते हैं अंग्रेजी? जानिए इसके पीछे की ये बड़ी वजह...

वैसे तो शराब पीना सेहत के लिए हानीकारक होता है। शराब का नशा ऐसा नशा होता है कि बड़े बड़े सेलिब्रेटी तक सड़कों पर आकर अजीबो गरीब हरकते करने लग जाते है। फिर तो समान्य आदमी की बात ही अलग है।

09-May-2021

क्या आप जानते हैं पानी पीने का सही समय?

क्या आप जानते हैं पानी पीने का सही समय?

वैसे तो पानी हमारे शरीर के लिए बहुत जरूरी होता है। इसका सही तरह से इस्तेमाल करने पर आपको कई बीमारियों से छुटकारा मिल सकता है लेकिन क्या आप जानते हैं कि नहाने के बाद पानी जरूर पीने चाहिये, आखिर क्यों?

01-Apr-2021

देश की अर्थव्यवस्था में इन अमीर राज्यों का सबसे ज्यादा योगदान

देश की अर्थव्यवस्था में इन अमीर राज्यों का सबसे ज्यादा योगदान

इकनोमिक फ्रीडम रैंकिंग्स के हिसाब से ये राज्य है देश के सबसे अमीर राज्य जिनका योगदान सबसे ज़्यादा रहा है, देश की अर्थव्यवस्था को संभालने में।

27-Mar-2021

लेखक की कलम से : फाइव स्टार कल्चर वाले ‘आंदोलनों’ का बढ़ता चलन

लेखक की कलम से : फाइव स्टार कल्चर वाले ‘आंदोलनों’ का बढ़ता चलन

देश की जनता ने कई बड़े आंदोलन देखे हैं। इसमें से अनेकों आंदोलन ऐसे भी हुए जिसने सरकार की ‘चूले’हिल कर रख दी थीं। ऐसे आंदोलन की श्रेणी में मजदूरों, किसानों, सरकारी कर्मचारियों के आंदोलनों को रखा जा सकता है।

17-Mar-2021

लेखक की कलम से : देश के लिए बड़ा खतरा हैं बेलगाम ‘जन सुविधा केन्द्र’

लेखक की कलम से : देश के लिए बड़ा खतरा हैं बेलगाम ‘जन सुविधा केन्द्र’

जनता की सुविधा के लिए बनाए गए जन सुविधा केन्द्र भ्रष्टाचार एवं धन उगाही का अड्डा और गैर कानूनी काम करने का केन्द्र बन गया है। यहां जन सुविधा के नाम पर हर उलटे-सीधे दोनों तरह से कोई भी अपना आधार कार्ड, आय-जाति, निवास,जन्म-मृत्यु आदि तमाम प्रमाण पत्र बनवा सकता है।

11-Mar-2021

लेखक की कलम से : ऋषभ पंत की कामयाबी के संकेत और संदेश समझिए

लेखक की कलम से : ऋषभ पंत की कामयाबी के संकेत और संदेश समझिए

देखिए कोई खिलाड़ी अपने चाहने वालों के दिलों पर राज तब करता है जब वह विपरीत हालातों में या खास मैचों में उत्कृष्ट प्रदर्शन करता है। इस तरह के खिलाड़ियों को कहते हैं बिग मैच प्लेयर। डिएगो माराडोना, पेले, लारा, राहुल द्रविड़, सचिन तेंदुलकर बिग मैच प्लेयर रहे हैं।

10-Mar-2021

लेखक की कलम से : ‘जनादेश’तय करेगा किसान आंदोलन की दशा-दिशा !

लेखक की कलम से : ‘जनादेश’तय करेगा किसान आंदोलन की दशा-दिशा !

नया कृषि कानून वापस लेने की मांग को लेकर दिल्ली बार्डर पर डेरा डाले किसानों के आंदोलन में अजीब तरह का ठहराव नजर आ रहा है। न आंदोलन खत्म हो रहा है, न ही आगे बढ़ता नजर आ रहा है। ऐसा लग रहा है कि सरकार और किसान दोनों ही एक-दूसरे की बात सुनने समझने को तैयार नहीं हैं।

10-Mar-2021

लेखक की कलम से : जरा याद करें किस-किस ने किया था बटला हाउस कांड के हीरो का अपमान

लेखक की कलम से : जरा याद करें किस-किस ने किया था बटला हाउस कांड के हीरो का अपमान

कुछ वर्ष पूर्व ही देश की राजधानी में हुए बटला हाउस एनकाउंटर और उस एनकाउंटर में शहीद हो गए दिल्ली पुलिस के जाबांज इंस्पेक्टर मोहनचंद्र शर्मा की शहादत को सदियों तक भुलाया नहीं जा सकता सकता।

10-Mar-2021

करोड़ों साल पहले विलुप्त हुए डायनासौर की प्रजाति अंटोसौरस की पहचान हुई

करोड़ों साल पहले विलुप्त हुए डायनासौर की प्रजाति अंटोसौरस की पहचान हुई

धरती पर करोड़ों साल पहले धरति पर राज करने वाले डायनासौर के अलग अलग प्रजातियों की खोज होती रहती है। अभी हाल ही में मिला एक नया प्रजाति।

09-Mar-2021

 लाफिंग बुद्धा को क्यों माना जाता है गुड लक का प्रतीक, क्या है इनकी हसी के पीछे का राज़।

लाफिंग बुद्धा को क्यों माना जाता है गुड लक का प्रतीक, क्या है इनकी हसी के पीछे का राज़।

महात्मा बुद्ध के कई सारे शिष्य थे उनमे से एक का नाम था होतेई जो कि जापान से थे। लाफिंग बुद्धा को फेंगशुई के भगवान भी माना जाता है। घर मे लाफिंग बुद्धा की मूर्ति से सुख समृद्धि और खुशहाली आती है.

03-Mar-2021

आखिर रात में क्यों नहीं किया जाता है पोस्टमार्टम, जानिये क्या है वजह?

आखिर रात में क्यों नहीं किया जाता है पोस्टमार्टम, जानिये क्या है वजह?

किसी इंसान के मरने के बाद पोस्टमार्टम किया जाता है लेकिन क्या कभी आपने सोचा है कि आखिर पोस्टमार्टम रात में क्यों नहीं किया जाता है।

03-Mar-2021

लेखक की कलम से : योगी सरकार चार वर्ष पूरे होने के जश्न के बहाने आएगी चुनावी मोड में

लेखक की कलम से : योगी सरकार चार वर्ष पूरे होने के जश्न के बहाने आएगी चुनावी मोड में

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार अपना अंतिम पूर्ण बजट पेश करने के साथ ही चुनावी मोड में आ गई है। बजट के जरिए मिशन-2022 को फतह करने की कवायद शुरू हुई थी जिसे योगी सरकार के चार वर्ष पूरे होने की खुशी में पूरे प्रदेश में कार्यक्रम आयोजित करके और आगे बढ़ाया जाएगा।

27-Feb-2021

लेखक की कलम से:क्यों महाराष्ट्र के हालात बन रहे हैं देश के लिए चिंता का कारण ?

लेखक की कलम से:क्यों महाराष्ट्र के हालात बन रहे हैं देश के लिए चिंता का कारण ?

कोरोना वायरस के महाराष्ट्र में नए मामलों की तेजी से बढ़ती रफ्तार डराने वाले और निराश जनक हैं । जब सारे देश में पहले की तुलना में कोरोना संक्रमित लोगों के मामले घट रहे हैं

22-Feb-2021

लेखक की कलम से: आजाद ने दिखाया अंसारी को आईना

लेखक की कलम से: आजाद ने दिखाया अंसारी को आईना

गुलाम नबी आजाद के राज्यसभा से रिटायर होने के अवसर पर दिए गए भावुक भाषण के बाद देश के पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी शायद अपराधबोध के बोझ से दब गये हों। यह भी हो सकता है कि अंसारी को लग रहा हो कि उन्होंने भारत के मुसलमानों की स्थिति पर जो हाल के दौर में वक्तव्य दिए थे वे शायद सही नहीं थे।

11-Feb-2021

वैलेंटाइन डे वीक: गुलाब देकर बयां करें अपनी मोहब्ब, जानें किस दिन क्या दें तोहफा

वैलेंटाइन डे वीक: गुलाब देकर बयां करें अपनी मोहब्ब, जानें किस दिन क्या दें तोहफा

आज से फरवरी के उन दिनों की शुरुआत हो रही है जिसका प्रेमी जोड़ों को बेसब्री से इंतज़ार होता है मतलब वैलेंटाइन वीक

07-Feb-2021

लेखक की कलम से : ईरान के पाक पर हमले से क्या सीखे भारत

लेखक की कलम से : ईरान के पाक पर हमले से क्या सीखे भारत

ईरान ने पाकिस्तान में फिर से सर्जिकल स्ट्राइक किया है। इस हमले का नतीजा यह हुआ कि ईरान ने अपने कुछ अपह्त कर लिए गए नागरिकों को जैश उल अदल नाम के आतंकी संगठन के कब्जे से छुड़वा लिए। ईरान की यह सैन्य कार्रवाई विगत मंगलवार की रात को हुई।

06-Feb-2021

लेखक की कलम से : यूपी विधान सभा चुनाव तक खींचा जाएगा  ‘किसान आंदोलन’

लेखक की कलम से : यूपी विधान सभा चुनाव तक खींचा जाएगा ‘किसान आंदोलन’

मोदी सरकार द्वारा पास नया कृृषि कानून वापस लेने की मांग को लेकर चल रहा किसानों का धरना नित्य नये रंग बदल रहा है। कभी इसमें खालिस्तानियों की इंट्री हो जाती है तो कभी टुकड़े-टुकड़े गैंग वाले अपना एजेंडा लेकर आ जाते हैं।

06-Feb-2021

लेखक की कलम से : तिरंगे के आगे बौने सब झंडे

लेखक की कलम से : तिरंगे के आगे बौने सब झंडे

गणतंत्र दिवस पर देश के कोने-कोने में जब भारत के सभी लोग, बच्चे, बूढ़े समेत तिरंगे के आगे लोग सलामी दे रहे थे तब राजधानी में तथाकथित प्रदर्शनकारी किसानों का एक समूह लाल किले में घुस गया और ठीक उस जगह पर निशान साहिब और किसान संगठनों के झंडे लगा दिए जहां, हर साल स्वतंत्रता दिवस पर प्रधानमंत्री तिरंगा फहराते हैं।

27-Jan-2021